Fazilka Online News
News 24x7 Live

जिला कानूनी सेवाएं अथारिटी ने राष्ट्रीय ऊर्जा सरंक्षण दिवस पर बच्चों को किया जागरूक

अबोहर (दीपक मेहता)। जिला कानूनी सेवाएं अथारिटी की ओर से स्थानीय सच्चखंड़ कान्वैंट स्कूल में राष्ट्रीय ऊर्जा सरंक्षण दिवस एवं बच्चों के अधिकारों संबंधी जानकारी देने के लिए सैमीनार का आयोजन किया गया। इस अवसर पर मुख्य वक्तओं में लोक अदालत के सदस्य एवं सेवानिवृत्त एसडीएम श्री बीएल सिक्का, कर्नल दिलबाग सिंह व एडवोकेट देसराज कम्बोज शामिल थे, जबकि सैमीनार की अध्यक्षता प्रिंसिपल गोल्डन कौल ने की।
श्री बीएल सिक्का ने कहा कि भारतीय संविधान और राइट टू एजुकेशन जैसे अधिकारों ने बच्चों के हितों और हकों की हिफाजत के लिए बहुत-से दिशा-निर्देश जारी किए हैं। श्री सिक्का ने कहा सभी बच्चों के लिए बेहतर और जरूरी मेडिकल सुविधा, अपंगता है तो विशेष सुविधा, साफ पानी, पौष्टिक आहार, स्वस्थ रहने के लिए साफ वातावरण आवश्यक है। अधिकारों के प्रति जागरूक करते हुए श्री सिक्का ने कहा कि स्कूलों में बच्चों के शारीरिक व बौद्धिक विकास करने के साथ-साथ ऐसा कुछ न किया जाए जिससे उनकी गरिमा को ठेस पहुंचे। बच्चों को अपने परिवार की भाषा और तौर-तरीके सीखने का पूरा अधिकार है जो परिवार अपने बच्चों का भरण-पोषण करने में असमर्थ हों, उसको आर्थिक सहायता उपलब्ध कराना सरकार का दायित्व है। बच्चों को शारीरिक शोषण व खतरनाक ड्रग्स से दूर रखना और उनकी सुरक्षा सुनिश्चित करना माता-पिता के साथ-साथ सरकार की भी जिम्मेदारी है। राइट टू एजुकेशन ऐक्ट 2009 के तहत डॉक्यूमेंट्स के अभाव में किसी बच्चे को एडमिशन देने से नहीं रोका जा सकता है। एडमिशन के नाम पर बच्चे का टेस्ट नहीं लिया जा सकता। ऊर्जा सरंक्षण पर कर्नल दिलबाग सिंह ने कहा कि भारत में राष्ट्रीय ऊर्जा संरक्षण दिवस लोगों को ऊर्जा के महत्व के साथ ही साथ बचत और ऊर्जा की बचत के माध्यम से संरक्षण के सन्दर्भ जागरूक करना है। कर्नल दिलबाग सिंह ने कहा कि इन ऊर्जाओं के अलावा मानसिक ऊर्जा का उपयोग हमें अच्छी सोचों में खर्च करनी चाहिए । एडवोकेट देसराज कम्बोज ने कहा कि आप सब जानते हैं कि प्रत्येक समाज में बच्चों को र्दुव्यवहार, हिंसा और शोषण का सामना करना पड़ता है। यदि आप अपने आस-पड़ोस में झांककर देखें, तो पाएंगे कि छोटे-छोटे बच्चे स्कूल जाने के बजाय मजदूरी के काम में लगे हुए हैं। प्रिंसिपल श्रीमती गोल्डन कौल ने बच्चों को उनके अधिकारों व सुरक्षा के प्रति सजग रहने का संदेश दिया और ऊर्जा सरंक्षण करने के लिए पेरित किया।

Source Sarhad kesri
Via Fazilka online

Leave A Reply

Your email address will not be published.