Fazilka Online News
News 24x7 Live

वर्ष 2017 में अबोहर व बल्लूआना के चार किसानों ने कर्ज से परेशान होकर की आत्महत्या: एसडीएम

आत्महत्या करने वाले किसानों को मुआवजा राशि दिलाने संबंधी एसडीएम ने की बैठक
अबोहर (दीपक मेहता): वर्ष 2017 के दौरान कर्ज से परेशान किसानों द्वारा आत्महत्या करने वाले किसानों के परिजनों को मुआवजा राशि देने को लेकर सरकार पूरी तरह से प्रयासरत है। इसी को लेकर आज एसडीएम ने प्रशासनिक अधिकारियों संग बैठक कर अबोहर व आसपास के क्षेत्र में गत वर्ष दौरान आत्महत्याएं करने वाले किसानोंं की रिपोर्ट मांगी। इस बैठक में तहसीलदार जैत कंवर, नायब तहसीलदार बलजिंदर सिंह सिधू, डीएसपी गुरबिंदर सिंह संघा, कानूगो बूटा सिंह व एसएमओ डा. ओम प्रकाश आदि मौजूद थे।
बैठक में अधिकारियों ने एसडीएम को बताया कि वर्ष 2017 में अबोहर व बल्लूआना हल्के के गांवों में करीब 4 किसानों ने कर्ज से परेशान होकर आत्महत्या की है। इनमें गांव खैरपुर, सप्पांवाली, धरांगवाला व रूकनपुरा खुईखेड़ा के किसान शामिल है। उन्होनें बताया कि इनमें से दो मृतक किसानों के परिजनों को बनता मुआवजा सरकार द्वारा दे दिया गया है जबकि दो किसानों के परिवार अभी भी मुआवजा राशि से वंचित हैं। एसडीएम द्वारा पूछे जाने पर उनहोनें बताया कि इन दो किसानों की कुछ कागजी कार्रवाई अधूरी होने के कारण अभी तक उनको मुआवजा नहीं मिल पाया है जिस पर एसडीएम ने संबंधित अधिकारियों को उक्त दोनों मृत किसानों के अधूरे दस्तावेजों को शीघ्र पूरा कर रिपोर्ट देने को कहा। उन्होनें अधिकारियों से कहा कि वे मृत किसानों संबंधी उचित एवं सही रिपोर्ट शीघ्र तैयार करके भेजें ताकि वे इसकी रिपोर्ट जिला उपायुक्त को भेज सकें। उन्होंनें कह कि मृत किसानों के परिजनों का भी ध्यान रखा जाए ताकि उन्हें किसी प्रकार की परेशानी का सामना न करना पड़े।

Source Sarhad Kesri
Via Fazilka Online News

Leave A Reply

Your email address will not be published.